21 जून को होता है साल का सबसे लंबा दिन, जानें इसके पीछे की वजह

    20-Jun-2022
Total Views |

Summer Solstice
(Image Credit: Twitter) 
 
नागपुर:
हर वर्ष 21 जून साल का सबसे लंबा दिन होता है। दुनियाभर में इसे समर सोल्स्टिस (Summer solstice 2022) के नाम से जाना जाता है। यहां तक की कई देशों में इस दिन को त्यौहार की तरह मनाते हैं। समर सोल्स्टिस (Summer solstice 2022) उत्तरी गोलार्ध में वर्ष के सबसे लंबे दिन को चिह्नित करता है। वैसे तो खगोलीय परिभाषा के अनुसार, समर सोल्स्टिस (Summer solstice 2022) गर्मी के पहले दिन का प्रतीक है। हालांकि, इस शब्द का प्रयोग ज्यादातर साल के सबसे लंबे दिन को संदर्भित करने के लिए किया जाता है। खगोलीय घटना एक विशिष्ट समय पर होती है जब पृथ्वी का उत्तरी ध्रुव सूर्य के सबसे करीब झुकता है। जबकि दक्षिणी गोलार्ध में, जून सोल्स्टिस (Summer solstice 2022) खगोलीय सर्दियों की शुरुआत का प्रतीक है और वर्ष का सबसे छोटा दिन होता है।
 
 
कब है समर सोल्स्टिस?
 
अंतर्राष्ट्रीय समयानुसार, इस वर्ष समर सोल्स्टिस मंगलवार, 21 जून, 2022 को, उत्तरी गोलार्ध में सुबह 5.14 बजे (भारतीय समयानुसार 2:44 pm) होगी। इस समय पर, पृथ्वी का उत्तरी ध्रुव सूर्य के सबसे करीब झुक जाएगा, जिससे यह आकाश में अपने उच्चतम बिंदु पर दिखाई देगा।
 
सोल्स्टिस क्यों होते हैं ?
 
हर साल जून और दिसंबर में दो सोल्स्टिस होते हैं। सोल्स्टिस ऐसी घटना हैं जो पृथ्वी के झुकाव और सूर्य के चारों ओर उसकी कक्षा के परिणामस्वरूप होती हैं। माना जाता है कि अरबों साल पहले अन्य चट्टानों के साथ यादृच्छिक टक्कर के कारण, पृथ्वी अपनी धुरी पर झुकी हुई है, जिससे हमें सोल्स्टिस, विषुव और ऋतुएं मिलती हैं। जैसे ही पृथ्वी सूर्य के चारों ओर घूमती है, उत्तरी और दक्षिणी गोलार्ध वैकल्पिक रूप (Alternatively) से हर छह महीने में सूर्य का प्रकाश और गर्मी प्राप्त करते हैं। पृथ्वी अपनी कक्षा के समतल के सापेक्ष अपनी धुरी पर लगभग 23.4 डिग्री झुकी हुई है, यही कारण है कि हमें सोल्स्टिस मिले हैं। न्यूजवीक की रिपोर्ट के मुताबिक , 21 जून, 2022 को, न्यूयॉर्क 15 घंटे और पांच मिनट से अधिक दिन के उजाले का अनुभव करेगा। वहीं, आर्कटिक सर्कल में सूर्य अस्त नहीं होगा। जबकि मुंबई (भारत) में 13 घंटे 17 मिनट के करीब दिन के उजाले का अनुभव होगा।